Anantnath Aarti | 14 वें तीर्थंकर श्री अनंतनाथ की आरती

Anantnath Aarti | अनंतनाथ आरती – जैन धर्म के 14 वें तीर्थंकर श्री अनंतनाथ जी की आरती का प्रकाशन आज हम इस पोस्ट में कर रहें हैं.

सम्पूर्ण श्रद्धाभाव से आप सब श्री अनंतनाथ जी की आरती करें.

अनंतनाथ आरती

shri anantnath

|| श्री अनंतनाथ जी की आरती ||

करते हैं प्रभु की आरती, आतम की ज्योति जलेगी |
प्रभुवर अनंत की भक्ति, सदा सोख्य भरेगी, सदा सोख्य भरेगी ||

हे त्रिभुवन स्वामी, हे अन्तरयामी |
हे त्रिभुवन स्वामी, हे अन्तरयामी |

हे सिंहसेन के राज दुलारे, जयश्यामा के प्यारे |
साकेतपूरी के तुम नाथ, गुणाकार तुम न्यारे ||
तेरी भक्ति से हर प्राणी में, शक्ति जगेगी, प्राणी में शक्ति जगेगी |

हे त्रिभुवन स्वामी, हे अन्तरयामी |
हे त्रिभुवन स्वामी, हे अन्तरयामी |

वदि ज्येष्ठ द्वादशी में प्रभुवर, दीक्षा को धारा था |
चैत्री मावस में ज्ञान कल्याणक उत्सव प्यारा था ||
प्रभु की दिव्यध्वनि दिव्यज्ञान, आलोक भरेगी, ज्ञान आलोक भरेगी ||

हे त्रिभुवन स्वामी, हे अन्तरयामी |
हे त्रिभुवन स्वामी, हे अंतर्यामी |

इसे भी देखें – Panch Parmeshthi Ki Aarti | पंच परमेष्ठी की आरती

Anantnath Chalisa : अनंतनाथ चालीसा

Anantnath Aarti

|| Shri Anantnath Ji Ki Aarti ||

Karte Hain Prabhu Ki Aarti, Aatam Ki Jyoti Jalegi.
Prabhuvar Anant Ki Bhakti, Sada Sokhya Bharegi, Sada Sokhya Bharegi.

Hey Tribhuvan Swami, Hey Antaryami.
Hey Tribhuvan Swami, Hey Antaryami.

He Singhsen Ke Raj Dulare, Jai Shyama Ke Pyare.
Saketpuri Ke Tum Nath, Gunakar Tum Nyare.
Teri Bhakti Se Har Prani Me, Shakti Jagegi, Prani Me Shakti Jagegi.

Hey Tribhuvan Swami, Hey Antaryami.
Hey Tribhuvan Swami, Hey Antaryami.

Vadi Jyeshtha Dwadashi Me Prabhuvar, Diksha Ko Dhara Tha.
Chaitri Mawas Me Gyan Kalyanak Utsav Pyara Tha.
Prabhu Ki Divyadhwani Divyagyan, Aalok Bharegi, Gyan Aalok Bharegi.

Hey Tribhuvan Swami, Hey Antaryami.
Hey Tribhuvan Swami, Hey Antaryami.

विडियो

श्री अनंतनाथ जी की आरती (Anantnath Aarti) यूट्यूब विडियो हमने आप सब लोगों के लिए इस पोस्ट में दिया हुआ है. आप सब श्रद्धापूर्वक इस विडियो को देखें.

श्री अनंतनाथ जी की आरती

विडियो श्रोत – यूट्यूब

इस पोस्ट में बस इतना ही. किसी भी प्रकार के सुधार या सुझाव के लिए आप हमें कमेंट बॉक्स में लिखें या फिर हमें ईमेल करें.

हमारे कुछ अन्य प्रकाशनों को भी देखें –

नाकोड़ा भैरव जी की आरती Nakoda Bhairav Aarti

Shantinath Bhagwan Ki Aarti शांतिनाथ भगवान की आरती

Shri Ghantakarna Mahavir Ji Aarti श्री घंटाकर्ण महावीर जी आरती

Gautam Swami Ji Ki Aarti गौतम स्वामी जी की आरती

Aadinath Aarti – आदिनाथ भगवान की आरती

Om Jai Aadinath Deva Aarti | ॐ जय आदिनाथ देवा आरती

24 Tirthankar ki Aarti | चौबीस तीर्थंकर की आरती

Leave a Reply

Your email address will not be published.