Mangal Divo | मंगल दीवो (Mangal Deepak | मंगल दीपक)

Mangal Divo | मंगल दीवो (Mangal Deepak | मंगल दीपक) – जैन धर्म में मंगल दीपक का बहुत अधिक धार्मिक महत्व है.

इस पोस्ट में हम मंगल दीपक | मंगल दीवो का प्रकाशन कर रहें हैं. आपको यह प्रकाशन कैसा लगा? हमें कमेंट बॉक्स में अवस्य लिखें.

Contents
 [show]

    Mangal Divo | मंगल दीवो (Mangal Deepak | मंगल दीपक)

    || मंगल दीवो ||

    दीवो रे दीवो प्रभु मंगलिक दीवो, दीवो रे दीवो प्रभु मंगलिक दीवो |

    आरति उतारण बहु चिरंजीवो, आरति उतारण बहु चिरंजीवो ||

    दीवो रे दीवो प्रभु मंगलिक दीवो …….

    सोहामणुं घेर पर्व दीवाळी, सोहामणुं घेर पर्व दीवाळी |

    अम्बर खेले अमरा बाळी, अम्बर खेले अमरा बाळी ||

    दीपाळ भणे एणे कुल अजुआळी, दीपाळ भणे एणे कुल अजुआळी |

    भावे भगते विघन निवारी, भावे भगते विघन निवारी ||

    दीवो रे दीवो प्रभु मंगलिक दीवो …….

    दीपाळ भणे एणे ए कलिकाळे, दीपाळ भणे एणे ए कलिकाळे |

    आरति उतारी राजा कुमारपाळे, आरति उतारी राजा कुमारपाळे ||

    अम घेर मंगलिक तुम घेर मंगलिक, अम घेर मंगलिक तुम घेर मंगलिक |

    मंगलिक चतुर्विध संघने होजो, मंगलिक चतुर्विध संघने होजो ||

    दीवो रे दीवो प्रभु मंगलिक दीवो, दीवो रे दीवो प्रभु मंगलिक दीवो |

    दीवो रे दीवो प्रभु मंगलिक दीवो …….

    विडियो

    मंगल दीवो यूट्यूब विडियो को देखने के लिए प्ले बटन दबाएँ.

    मंगल दीवो

    विडियो श्रोत – यूट्यूब

    कुछ अन्य प्रकाशन –

    24 Tirthankar ki Aarti | चौबीस तीर्थंकर की आरती

    Panch Parmeshthi Ki Aarti | पंच परमेष्ठी की आरती

    नाकोड़ा भैरव जी की आरती Nakoda Bhairav Aarti

    Shri Ghantakarna Mahavir Ji Aarti श्री घंटाकर्ण महावीर जी आरती

    Parshwanath Aarti – श्री पार्श्वनाथ भगवान की आरती
    Padmavati Mata Ki Aarti | पदमावती माता की आरती

    Saraswati Mata Ni Aarti | सरस्वती माता नी आरती

    Manibhadra Veer Ji Ki Aarti | मणिभद्र वीर जी की आरती

    Jai Jai Aarti Aadi Jinanda | जय जय आरती आदि जिणंदा

    Leave a Comment