Shantinath Bhagwan Ki Aarti शांतिनाथ भगवान की आरती

Shantinath Bhagwan Ki Aarti शांतिनाथ भगवान की आरती – शांतिनाथ भगवान की आरती आज हम आप लोगों के लिए प्रकाशित कर रहें हैं. पोस्ट के अंत में विडियो भी दिया गया है उसे भी अवस्य देखें.

Shantinath Bhagwan Ki Aarti शांतिनाथ भगवान की आरती

|| शांतिनाथ भगवान की आरती ||

शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे।
आरती उतारेंगे हम आरती उतारेंगे

आरती उतारेंगे हम आरती उतारेंगे
शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे।

हस्तिनापुर में जनम लिये हे प्रभु देव करे जयकारा हो ।
जन्म महोत्सव करें कल्याणक, नाचे झूमे गाये हो ॥

ऐसे अवतारी की अब हम आरती उतारेंगे।
शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे।

धन्य है माता ऐरा देवी तुम्हें जो गोद उठाईं है ।
विश्वसेन के कुलदीपक ने ज्ञान की ज्योति जगाई है ।

ऐसे अवतारी की अब हम आरती उतारेंगे ।
शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे।

पंचम चक्रवर्ती पद पाये, जग सुख बढा अपार था ।
द्वादस कामदेव अति सुन्दर जग में बढा ही नाम था ।

ऐसे अवतारी की अब हम आरती उतारेंगे ।
शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे।

शांति नाथ प्रभु शांति प्रदाता शुचिता सुख अपार दो ।
जनम-मरण दुःख मेटो प्रभुजी लेना शरण में आप हो ।

ऐसे अवतारी की अब हम आरती उतारेंगे |
शांतिनाथ भगवान की हम आरती उतारेंगे |

शांतिनाथ भगवान की आरती विडियो

श्री शांतिनाथ भगवान की आरती के विडियो निचे दिए गए हैं. आप सम्पूर्ण भक्ति भाव के साथ इन विडियो को अवस्य देखें.

Shantinath Bhagwan Ki Aarti Lyrics

Shantinath Bhagwan Ki Ham Aarti Utarenge.
Aarti Utarenge Ham Aarti Utarenge.

Aarti Utarenge Ham Aarti Utarenge.
Shantinath Bhagwan Ki Ham Aarti Utarenge.

Hastinapur Me Hanam Liye He Prabhu Dev Kare Jaykara Ho.
Janm Mahotsaw Karen Kalyanak, Naache Jhume Gaaye Ho.

Aise Awtaari Ki Ab Ham Aarti Utarenge.
Shantinath Bhagwan Ki Ham Aarti Utarenge.

Dhanya Hai Mata Aera Devi Tumhe Jo God Uthai Hai.
Vishwasen Ke Kuldipak Ne Gyan Ki Jyoti Jagai Hai.

Aise Awtaari Ki Ab Ham Aarti Utarenge.
Shantinath Bhagwan Ki Ham Aarti Utarenge.

Pancham Chakrawarti Pad Paaye, Jag Sukh Badha Apaar Tha.
Dwadas Kaamdev Ati Sundar Jag Me Bada Hi Naam Tha.

Aise Awtaari Ki Ab Ham Aarti Utarenge.
Shantinath Bhagwan Ki Ham Aarti Utarenge.

Shantinath Prabhu Shanti Pradata Shuchita Sukh Apar Do.
Janam Maran Dukh Meto Prabhuji Lena Sharan Me Aap Ho.

Aise Awtaari Ki Ab Ham Aarti Utarenge.
Shantinath Bhagwan Ki Ham Aarti Utarenge.

Also read

नाकोड़ा भैरव जी की आरती Nakoda Bhairav Aarti

Know more about Shantinatha Bhagwan from Wikipedia.

Leave a Comment