Shreyansnath Bhagwan ki Aarti श्रेयांसनाथ भगवान आरती

Shreyansnath Bhagwan ki Aarti श्रेयांसनाथ भगवान की आरती – भगवान श्री श्रेयांसनाथ जी की आराधना और स्तुति के लिए यहाँ आरती का प्रकाशन किया गया है.

श्री श्रेयांसनाथ जी की आराधना और स्तुति के लिए पहले आप Shreyansnath Chalisa | श्री श्रेयांसनाथ चालीसा का पाठ करें.

भगवान श्री श्रेयांसनाथ जी जैन धर्म के 11वें तीर्थंकर थे.

इनका जन्म इक्ष्वाकु वंश में हुआ था. इनकी माता का नाम वेणुदेवी और पिता का नाम विष्णु नरेंद्र था.

श्री श्रेयांसनाथ जी का जन्म सारनाथ में हुआ था. और इन्होने सम्मेद शिखर पर मोक्ष को प्राप्त किया था.

Shreyansnath Bhagwan ki Aarti श्रेयांसनाथ भगवान की आरती

|| श्री श्रेयांसनाथ भगवान की आरती ||

प्रभु श्रेयांस की आरती कीजे, भव भव के पातक हर लीजे।
प्रभु श्रेयांस की आरती कीजे, भव भव के पातक हर लीजे।

स्वर्ण वर्णमय प्रभा निराली, मूर्ति तुम्हारी हैं मनहारी।
सिंहपूरी में जब तुम जन्मे, सुरगण जन्म कल्याणक करते।

प्रभु श्रेयांस की आरती कीजे, भव भव के पातक हर लीजे।

विष्णु मित्र पितु, नन्दा माता, नगरी में भी आनन्द छाता।
फागुन वदि ग्यारस शुभ तिथि थी, जब प्रभु वर ने दीक्षा ली थी।

प्रभु श्रेयांस की आरती कीजे, भव भव के पातक हर लीजे।

माघ कृष्ण मावस को स्वामी,कहलाये थे केवलज्ञानी।
श्रावण सुदी पूर्णिमा आई, यम जीता शिव पदवी पाई।

श्रेय मार्ग के दाता तुम हो, जजे चन्दनामति शिवगति दो।

प्रभु श्रेयांस की आरती कीजे, भव भव के पातक हर लीजे।

प्रभु श्रेयांस की आरती कीजे, भव भव के पातक हर लीजे।

इस प्रकाशन को भी देखें – Padmavati Mata Ki Aarti | पदमावती माता की आरती

विडियो

श्री श्रेयांसनाथ भगवान की आरती (Shri Shreyansnath Bhagwan Ki Aarti) यूट्यूब विडियो यहाँ निचे दिया हुआ है. इस विडियो को यहीं देखने के लिए प्ले का बटन दबाएँ.

भगवान श्री श्रेयांसनाथ जी की आरती

कुछ अन्य प्रकाशन –

Shri Ghantakarna Mahavir Ji Aarti श्री घंटाकर्ण महावीर जी आरती

Om Jai Aadinath Deva Aarti | ॐ जय आदिनाथ देवा आरती

Panch Parmeshthi Ki Aarti | पंच परमेष्ठी की आरती

बाहुबली भगवान की आरती : Bahubali Bhagwan Ki Aarti

Saraswati Mata Ni Aarti | सरस्वती माता नी आरती

Leave a Reply

Your email address will not be published.